Zara Hatke Zara Bachke (2023)- Review, Plot, Cast, Song | Vicky Kaushal , Sara Ali Khan |

Zara Hatke Zara Bachke (2023)- Review, Plot, Cast, Song | Vicky Kaushal , Sara Ali Khan |

Zara Hatke Zara Bachke

Step-by-step

Zara Hatke Zara Bachke Overview-

Zara Hatke Zara Bachke  एक ऐसे जोड़े की कहानी है जो अपनी समस्याओं को हल करने के लिए एक नया विचार लेकर आता है । कपिल दुबे ( Vicky Kaushal ) सौम्या चावला दुबे ( Sara Ali Khan ) ने शादी के 2 साल पूरे किए 

 वे अपने माता-पिता वेद प्रकाश दुबे (आकाश खुराना) और ममता दुबे (अनुभा फतेहपुरिया) के साथ इंदौर के एक घर में रहते हैं। पिछले छह महीनों से कपिल के मामा पुरुषोत्तम मामा (नीरज सूद) और बुआ दीपा मामी (कनुप्रिया शंकर पंडित) उनके यहां रहने लगे हैं। कपिल( Vicky Kaushal ) और सौम्या ( Sara Ali Khan ) को अपना बेडरूम उन्हें देने के लिए मजबूर होना पड़ता है।

 नतीजतन, उनके पास कोई गोपनीयता नहीं है। सौम्या ( Sara Ali Khan ), इसलिए, कपिल ( Vicky Kaushal ) को सुझाव देती हैं कि उनका अपना घर होना चाहिए। वे घरों की तलाश शुरू करते हैं लेकिन जल्द ही उन्हें एहसास होता है कि अचल संपत्ति की कीमतें आसमान छू रही हैं। एक दिन, सौम्या को जन आवास योजना के बारे में पता चलता है, जो एक सरकारी योजना है जो सस्ती दरों पर घर उपलब्ध कराती है। 

कपिल ( Vicky Kaushal ) इसके लिए आवेदन करने की कोशिश करता है लेकिन उसे बताया जाता है कि वह इसके लिए पात्र नहीं है क्योंकि यह योजना केवल आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों और जो नहीं करते हैं उनके लिए है। उनके पास पहले से ही अपना पक्का घर नहीं है। भगवानदास (इनामुलहक), जन आवास योजना कार्यालय में एक कर्मचारी, कपिल से टकराता है और वह बाद वाले को आश्वासन देता है कि वह उसे और सौम्या को एक घर दिलवा सकता है। उनकी एक शर्त है: कपिल और सौम्या को तलाक लेना होगा। आगे क्या होता है बाकी फिल्म बनती है।

zara hatke zara bachke

  • Release Date –2 June 2023
  • Language –Hindi
  • Genre –Comedy, Drama
  • Duration –2h 12min
  • Cast –Sara Ali Khan, Vicky Kaushal, Meghna Agarwal, Inaamulhaq, Neeraj Sood, Akash Khurana, Rakesh Bedi, Sharib Hashmi
  • Director –Laxman Utekar
  • Writer –Laxman Utekar
  • Cinematography –Raghav Ramadoss
  • Music –Sachin-Jigar
  • Producer –Dinesh Vijan, Jyoti Deshpande
  • Production –Maddocks Films

 

Zara Hatke Zara Bachke (2023)

Zara Hatke Zara Bachke Song –

# TITLE ARTIST DURATION
1. Phir Aur Kya Chahiye Arijit Singh, Sachin Sanghvi, Jigar Saraiya 4:27
2. Tere Vaaste Varun Jain, Sachin Sanghvi, Jigar Saraiya, Shadab Faridi, Altamash Faridi 3:10
3. Baby Tujhe Paap Lagega Himesh Reshammiya, Sachin-Jigar, & Amitabh Bhattacharya 2:54
4. Saanjha Sachin-Jigar, Sachet Tandon, Shilpa Rao, Amitabh Bhattacharya 4:58

 

Zara Hatke Zara Bachke Plot –

https://www.imdb.com/title/tt15576460/

हम लोग कितना फटा फट जल्दी करते है ना किसी फ़िल्म की बुराइ करने में जब बॉलीवुड वाले उल्टा सीधा बना के कुछ थिएटर में रिलीज कर देते हैं। तो भैया आज पासा उल्टा पड़ गया है। गलती मेरी आपकी पब्लिक की है और सजा सुनाने का हक इस बार बॉलीवुड के हाथों में होगा।

Zara Hatke Zara Bachke – कब आई कब चली भी जाएगी शायद 90% लोगों को इसका पता भी नहीं चलेगा । कसूर फ़िल्म बनाने वालों का है जिनको फ़िल्म बेचना नहीं आया लेकिन बाकी 10% जो अच्छा सिनेमा देखना चाहते हैं बेचारे उनके हक को क्यों मारना । बॉलीवुड के रूट्स हमेशा से रहे हैं फैमिली ऐंड इमोशन्स ऐसा सिनेमा बनाना इसमें लोग कुछ घंटे के लिए अपनी जिंदगी को भूलकर एक पर्फेक्ट लाइफ जी सकें।

ऐसे कुछ टाइम पहले आई थी Tu jhoothi main makkar उस टाइम हल्ला कुछ खास नहीं था लेकिन फ़िल्म ने पैसे ढेर सारे छाप दिए। रीज़न था एक सिंपल सिनेमा जीसको फैमिली के साथ में मिलकर देख सकें हर किसी को सस्पेंस ये सब नहीं समझ आता ।भाई Luka Chuppi देखी आपने उसे जिस डायरेक्टर ने बनाया वो वापस आए हैं इस नई वाली फ़िल्म के साथ कहानी के  साथ ।

Zara Hatke Zara Bachke (2023)
Zara Hatke Zara Bachke (2023)

एक लव मैरिज वाले ऑर्डिनरी कपिल की है जिनके सपने बहुत ज्यादा एक्स्ट्रा आर्डिनरी है और सबसे बड़ा सपना परिवार से दूर का घर बनाना। तो दिक्कत क्या है पैसे लाओ बिल्डर के पास जमा कराओ और हफ्ते महीने बाद पति पत्नी उस घर में शिफ्ट हो जाओ। पैसे जोड़ते-जोड़ते इनका ये वाला जन्म तो खत्म ही समझो।आप पति पत्नी अकेले कहीं चले जाएं ऐसा होगा नहीं सब परिवार जाना पड़ेगा। लेकिन एक रास्ता है एक शॉर्टकट जिसपे चलके सपना पूरा होगा । पति पत्नी वाले टाइटल की होगी अरे भैया पति को पत्नी से तलाक लेना है इसका फायदा नंबर वन घरवालों से पीछा छूट गया।

फायदा नंबर टू एक अकेली लड़की को घर खरीदने में सरकार मदद करती है। बहुत सारी स्कीम है आजकल लेकिन इससे पहले क्या खुद दिमाग लगाके ऐसा कुछ रियल लाइफ में करने के बारे में सोचो।  ये घर के लालच में पति पत्नी का रिश्ता बन जाता है जबकि नकली तलाक धीरे धीरे असली बनने लगता है। इतना तो समझ ही गए होंगे की कहानी में रोमैंस है इमोशन है ट्रैजिडी है और इन सबसे जो रायता फैलेगा उसमें कॉमेडी का स्वाद भी आएगा।

मिडल क्लास फैमिली को तो अलग से कैटगरी घोषित कर देना चाहिए बॉलीवुड में हमेशा एक ज़बरदस्त का वजन ढूंढ निकालते हैं। उस पर फ़िल्म बनाने के लिए ये मिडल क्लास सिचुएशन में कॉमेडी बिना ढूँढें मिल जाती है क्योंकि प्रॉब्लम्स हमेशा बाहर से मामूली देखती है। अंदर गोपाल से इतनी गहरी फुल ऑफ कन्फ्यूजन बस यहाँ पे अच्छा कमाल की राइटिंग फनी डायलॉग लिखने आपको पब्लिक पगला जाएगी और सबसे बढ़िया काम साइड रोल्स में जबरदस्त टैलेंट पाली कमाल के ऐक्टर्स को फिट कर देना ।

Zara Hatke Zara Bachke Review –

सटकली कहानी को भी असली जितना भरोसा करने पर मजबूर कर देंगे। पीछे से रोमांस की जिम्मेदारी अरिजीत सिंह ने संभाली रखी है ”तू है तो मुझे फिर और क्या चाहिए” इसको सुनके कौन नहीं पिघलेगा बाकी बचा कुचा काम एक्टिंग में Vicky Kaushal ने संभाल रखा है। ये बंदा अलग ही लेवल पे काम करता है फुल ऑफ वराइटी कुछ भी करवालो । URI में इनका कैरेक्टर देखकर कोई बोल सकता है ये आदमी एक कॉमेडी फ़िल्म करेगा। वो भी ऐसी जिसमें रोमैंस का तड़का लगा हो बिलकुल गिर गयी की तरह रंग बदल सकते हैं । 

Sara Ali Khan से शिकायत नहीं है मुझे कुछ लेकिन उनके अंदर से मुंबई को थोड़ा बाहर निकलना पड़ेगा। अतरंगी रे देखी थी आपने बस Sara Ali Khan  वही कैरेक्टर सारा का सारा उठा लाए हैं इस फ़िल्म के अंदर एक कुछ ज्यादा अंतर नहीं है। दोनों में कहीं कहीं पे इनका थोड़ा सा एक्स्ट्रा हो जाता है मतलब नॉर्मल सीन उतना नोर्मल्ली रहता खुद देखो समझ जाओगे। देखो वही सिंपल फ़िल्म है जिसमें दिमाग ज्यादा चलाना नहीं है और इसके ठीक उल्टा दिल को एकदम आजाद छोड़ देना है।

[web_stories title=”true” excerpt=”false” author=”false” date=”false” archive_link=”true” archive_link_label=”” circle_size=”150″ sharp_corners=”false” image_alignment=”left” number_of_columns=”1″ number_of_stories=”5″ order=”DESC” orderby=”post_title” view=”carousel” /] जहाँ भागना हो भागने दो फुल एन्जॉय करो मैं कभी नहीं बोलूँगा। बागी या फिर हीरोपंती टाइप की मूवीज़ में पैसे बर्बाद करने के लिए लेकिन Zara Hatke Zara Bachke ये असली सिनेमा है कैसी फ़िल्म जीसको फैमिली के साथ बाहर जाके एन्जॉय किया जाता है उड़ टीवी पे घर के अंदर देखा तो क्या मज़ा आएगा ।

Leave a Comment

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

error: